कोविड-19 के दौरान रेल इंजन कारखाना के नाम एक और उपलब्धि

मात्र ₹600 में जमालपुर रेल कारखाना ने बनाया ऑटोमैटिक थर्मल टेम्परेचर रिकॉर्डर

प्रिंस दिलखुश/आजतक24लाइव.इन

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

कोविड-19 के दौरान रेल इंजन कारखाना के नाम एक और उपलब्धि

 

 

 

 

 

कोविड-19 महामारी के दौरान लोगों के टेंपरेचर की स्क्रीनिंग थर्मल डिवाइस से किया जा रहा है।लेकिन इसमें सबसे बड़ी समस्या यह है की इस ट्रिगर को कई लोगों द्वारा दबाया जाता है और स्क्रीनिंग का कार्य किया जाता है।एक ही ट्रिगर को कई लोगों द्वारा दबाए जाने से लोगों में संक्रमण होने का खतरा बना रहता है।इसी समस्या को दूर करने के लिए रेल इंजन कारखाना जमालपुर के मुख्य कारखाना प्रबंधक सुदर्शन विजय एवं डिप्टी सीएमई (प्रोडक्शन) प्रेम प्रकाश जी के नेतृत्व में टीम के सदस्य चंदन कुमार,विश्वजीत कुमार,अमरजीत वर्मा सहित अन्य कारखाना कर्मियों ने मिलकर मात्र 600 रुपये में एक डिवाइस का निर्माण किया है।

 

 

स्वचालित थर्मल तापमान रिकॉर्डर

 

 

जानकारी देते हुए धर्मेंद्र कुमार साकया ने बताया कि यह उपकरण मुख्य कारखाना प्रबंधक श्री सुदर्शन विजय के मार्गदर्शन में जमालपुर रेलवे वर्कशॉप में विकसित किया गया है।जो मौजूदा बाजार में उपलब्ध थर्मल मशीन को संशोधित करके बनाया गया है।बाजार में उपलब्ध थर्मल गन मशीन में मौजूद ट्रिगर का इस्तेमाल कर किसी भी व्यक्ति के तापमान को रिकॉर्ड करने के लिए कई ऑपरेटरों द्वारा किया जाता है।

 

 

यही कारण है कि इस मुश्किल को दूर करने के लिए डिवाइस के मल्टी हैंडलिंग के कारण संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है,इस समस्या को दूर करने के लिए कॉन्टैक्टलेस/टचलेस थर्मल रिकॉर्डर का निर्माण किया है।इससे पेंसिल बैटरी को बदल दिया गया है, क्योंकि पूर्व से मौजूद डिवाइस की बैटरी 2-3 दिनों के भीतर समाप्त हो जाती है।इसलिए बैटरी को प्रतिस्थापित किया गया।जिसमें 220 वोल्ट डायरेक्ट ऐसी सिस्टम को संशोधित करने में 5 वोल्ट एडॉप्टर की कुल लागत की मदद से एसी की आपूर्ति केवल 600 रुपये में कई गयी है।डिवाइस को सफलतापूर्वक उपयोग किया जा रहा है।

 

 

 

 

 

इसके फायदे

 

थर्मल गन मशीन की औसत बैटरी 2 से 3 दिन थी और बैटरी डाउन होने के दौरान स्क्रीन पर कम स्थिति डेटा में उतार-चढ़ाव होता है और यह स्पष्ट रूप से नहीं देखा जा सकता है।हम 220 वोल्ट एसी की आपूर्ति के साथ बैटरी की आपूर्ति को 5 वोल्ट एडाप्टर एसी के साथ डीसी कनवर्टर में बदलते हैं।220 वोल्ट की निरंतर आपूर्ति ने इस समस्या को हल किया है।दिल्ली में इस थर्मल मशीन का उपयोग करने के बाद बहुत सारे पुलिस कर्मी संक्रमित हो गए और अन्य मेट्रो शहरों में भी इसका उपयोग किया जाता है।थोड़ा सा संशोधन करने के बाद यह टचलेस तापमान रिकॉर्डर संक्रमण से बचा सकता है।कोविद -19 संक्रमण से बहुत सारे जीवन के बाद से यह स्वत: स्पर्श रहित तापमान रिकॉर्डर है।इसीलिए इसने मानव इंटरफ़ेस की आवश्यकता को दूर कर दिया है।इस प्रकार की प्रणाली लाखो रुपये में बाजार में उपलब्ध है,लेकिन हमने मौजूदा प्रणाली को संशोधित करके सिर्फ 600 रुपये में इसका निर्माण किया है।

 

 

 

 

प्रमुख तत्व

आईआर सेंसर,थर्मल / तापमान सेंसर,डिस्प्ले स्क्रीन,वोल्टेज रेगुलेटर,अनुकूलक तकनीकी मापदंड।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

बिहार का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा ‌‍?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close