समस्तीपुरःबैंकों और सीएसपी के आसपास नहीं दिख रही है सोशल डिस्टेंसिंग

आजतक 24लाइव/एस.रमण

 

रुपए निकासी को लेकर लोग भूल जा रहे हैं कोरोना का भय

 

लाॅक डाउन की धज्जियां उड़कर धड़ल्ले से तोड़ रहे हैं कानून

 

समस्तीपुर/बिथानः-कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम को लेकर प्रखंड प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग लाॅक डॉउन व सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों को पूर्ण रुप से पालन करने के लिए लोगों को जागरूक कर रहे हैं।वहीं प्रशासन द्वारा इन नियमों का पालन करवाने में सख्ती भी बरतनी पड़ रही है।कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर लोक डॉउन की स्थिति में घर से बाहर नहीं निकल पाने की वजह से प्रतिदिन रोजगार कमाने वाले लोगों की मदद सरकार की ओर से की गई है। प्रधानमंत्री जन धन योजना के तहत पहली किस्त जरूरतमंदों के खाते में भेजी गई है।लेकिन ऐसा देखा गया है कि जिले में कई जगहों पर पैसे निकालने व बैंक के अकाउंट की जांच के लिए सामाजिक दूरी के नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है इससे उनमें संक्रमण का खतरा बढ़ जाएगा और वह रोग ग्रस्त हो जाएंगे।संक्रमण महामारी का रूप न ले इसके लिए पूरे देश में 14 अप्रैल तक लाॅक डाउन लगाया गया है। घर से बाहर निकलने पर सामाजिक दूरी बरतनी शरीर को अन्य लोगों के संपर्क में आने से बचाने के लिए कहा गया है। लेकिन इसकी अनदेखी करते हुए प्रखंड अंतर्गत लोग बैंकों तथा सीएसपी के बाहर लाइन लगाकर पैसे निकालने में लगे हुए हैं ऐसा कर लोग रोग के प्रसार में मदद कर रहे होते हैं। ऐसे में उनकी सामाजिक व नैतिक जिम्मेदारी बनती है कि संक्रमण की रोकथाम के लिए बनाए गए नियमों का कड़ाई से पालन करें।

 

 

कोरोना वायरस को लेकर 21 दिनों तक किए गए लाॅक डाउन के मद्देनजर एक तरफ जहां देश की ज्यादातर आबादी अपने घरों के भीतर होकर लॉक डाउन का सख्ती से पालन कर रही है वहीं दूसरी तरफ राज्य व केंद्र सरकार के द्वारा उज्जवला योजना के अंतर्गत गैस के लिए भेजे गए एक हजार की राशि व जन धन योजना के अंतर्गत पासबुक में सरकार द्वारा भेजे जाने वाले रुपए की जानकारी प्राप्त करने तथा निकासी को लेकर प्रखंड के बैंकों व सीएसपी केंद्रों के बाहर पुरुषों एवं महिलाओं की भीड़ सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ा रही है।एक साथ इतनी संख्या में जुटी महिलाओं और पुरुषों के बैंक खाते के विवरण बताने तथा राशि निकासी में संचालक भी पसीने से तरबतर हो रहे हैं।दूरदराज से जुटने वाली भाडी़ भीड़ के बीच कब कौन संक्रमित मरीज मिल जाए कह पाना मुश्किल है।बैंक में पैसा निकालने के लिए बैंक के बाहर काफी भीड़ उमड़ पड़ी।इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं किया जा रहा था। इसके अलावा सुबह-शाम होते ही घरों से निकलकर लोग टहलते हुए बाजारों की तरफ पहुंच जा रहे हैं और बगैर जरूरी कार्य के भी बाजारों-गांव में लोग घूमते नजर आ रहे हैं तथा सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन नहीं कर रहे हैं।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

बिहार का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा ‌‍?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close