समस्तीपुरःसंजन पर गोलीबारी मामले में सात न्यायिक हिरासत में,दो की गिरफ्तारी हेतु छापेमारी जारी

आजतक 24लाइव/एस.रमण

 

 

अपराधियों के पास से दो देशी कट्टा,एक पिस्टल,एक मैगजीन तथा आठ गोली बरामद

 

गिरफ्तार अपराधियों ने बराही पुल के निकट सीएसपी संचालक से हुई लूट कांड में भी अपनी संलिप्तता स्वीकार की

 

समस्तीपुर/बिथानः-थाना क्षेत्र के मालसर ढाला से आगे दो दिन पूर्व अपराधियों के गोली से जख्मी संजन कुमार के बड़े भाई निरंजन कुमार ने कांड संख्या: 37/2020 के तहत नौ अज्ञात अपराधियों पर प्राथमिकी दर्ज कराई है। बताते चलें 3 अप्रैल की संध्या अपराधियों ने सखवा निवासी संजन पर उस समय गोली चला दी थी जब वह बाइक से अपने भाई के साथ बिथान बाजार राशन लाने जा रहा था।पूर्व से घात लगाए अपराधियों ने रास्ता रोककर मारपीट व गाली-गलौज करने लगा इसी दौरान प्रतिरोध करने पर उसे सिर में पीछे से गोली मार दिया,हालांकि गोली सिर को जख्मी करते हुए निकल गई। जख्मी हालत में उसे सीएचसी में भर्ती कराया गया था जहां बेहतर इलाज के लिए उसे रेफर कर दिया गया।

 

 

इस संबंध में पुलिस ने सात अपराधियों को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया जबकि दो की गिरफ्तारी हेतु छापेमारी जारी है।पुलिस ने घटनास्थल से एक पल्सर,दो अपाची सहित दो देशी कट्टा,एक पोस्टल,एक पोस्टल,आठ गोली तथा दो खोखा बरामद किया है।हिरासत में लिए गए अपराधियों में सिहमा गांव के राजू यादव,रुदल यादव,सुनील यादव, बलिया थाना के दीपक कुमार उर्फ रवि तथा बखरी थाना के अंकुश राज तथा आदित्य उर्फ केशव ईश्वर शामिल है।थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने बताया कि गिरफ्तार सभी अपराधी,अपराधी प्रवृत्ति के हैं तथा विभिन्न आपराधिक घटनाओं में शामिल रहे हैं तथा आपराधिक घटनाओं को बेरोकटोक अंजाम देते रहे हैं।उन्होंने बताया अपराधियों में से राजू यादव तथा दीपक कुमार उर्फ रवि समेत पांच को ग्रामीणों ने भागते वक्त पकड़ा,जिनके पास से दो देशी कट्टा,पांच गोली तथा दो खोखा बरामद हुआ था।वहीं इन्हें सहयोग करने वाले आदित्य उर्फ केशव ईश्वर को पुलिस ने रेलवे बांध के पास से गिरफ्तार किया जिसके पास से एक पिस्टल,एक मैगजीन,मोबाइल तथा तीन गोली बरामद किया गया।जबकि मौके का फायदा उठाकर सिहमा गाँव के चंदन कुमार फरार हो गया।इन अपराधियों के निशानदेही पर सिहमा गाँव से सुनील कुमार को भी गिरफ्तार किया गया।

 

 

 

पुलिसिया पूछताछ में दीपक उर्फ रवि तथा राजू ने पूर्व के कई घटनाओं में अपना जुर्म स्वीकार किया।बराही-बलाही पथ के बराही पुल के निकट सीएसपी संचालक पांडव कुमार ठाकुर एवं परिजनों से रुपए लूट में भी इन्होंने अपनी संलिप्तता स्वीकार की।साथ ही संचालक से लूटे गए रुपए की भी बरामदगी हुई है।इन अपराधियों की गिरफ्तारी से पुलिस प्रशासन तथा प्रखंड के लोगों ने राहत की सांस ली है।थानाध्यक्ष श्री कुमार ने कहा अपराधियों से सख्ती से निपटा जाएगा,शीघ्र ही दोनों फरार अपराधी सलाखों के अंदर होंगे।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

बिहार का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा ‌‍?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close