समस्तीपुर:दिव्यांग अपने अधिकार व शक्ति को पहचानेंःआफताब आलम

आजतक 24 लाइव/ एस.रमण

 

समस्तीपुर/बिथानः-दिव्यांग कभी मानसिक रूप से अपने को कमजोर न समझें बल्कि अपने अधिकार व शक्ति को पहचानते हुए कुछ ऐसा असाधारण काम करें कि पूरा समाज आपको सैल्यूट करे।उक्त बातें प्रखंड विकास पदाधिकारी आफताब आलम ने गुरूवार को स्थानीय प्रखंड कार्यालय सभागार में आयोजित दिव्यांगों के बैठक को संबोधित करते हुए कही।उन्होंने कहा दिव्यांगों के सर्वांगीण विकास के प्रति प्रशासन संवेदनशील है।दिव्यांग कभी अपने आप को कमजोर न समझें और मानसिक रूप से मजबूत हो। दिव्यांगों के उत्थान व विकास का उल्लेख करते हुए बताया कि दिव्यांग अधिकार अधिनियम 2016 को सशक्त बनाया गया जो मई 18 से पूरे देश में लागू है।अधिनियम में दिव्यांगों को कई कानूनी शक्तियां प्रदान की गई हैं।इसके तहत अधिनियम की नियमवली के तहत दिव्यांगों के साथ गलत करने वाले को जेल की सजा का प्रावधान है।

 

 

बैठक में दिव्यांग की समस्याओं के निराकरण हेतु प्रमाण पत्र का निर्गमन,18 वर्ष के बच्चों के लिए समुचित वातावरण एवं मुफ्त शिक्षा,शैक्षणिक संस्थानों में प्रवेश में आरक्षण,गरीबी निवारण योजनाओं में आरक्षण,दिव्यांगता के आधार पर किसी तरह के भेदभाव नही करने जैसे कई महत्वपूर्ण बातों की जानकारी दी गई। दिव्यांगजनों को मुख्यमंत्री विवाह प्रोत्साहन योजना,स्वरोजगार ऋण योजना,दिव्यांग को रोजगार में चार प्रतिशत का आरक्षण आदि योजनाओं के बारे में विस्तृत जानकारी दी गई।

 

 

सीडीपीओ श्रीमती प्रियंका ने उपस्थित दिव्यांगों को बताया कि सरकार के द्वारा कई तरह की योजनाएँ चलाई जा रही है जिससे हर एक दिव्यांग व्यक्ति उससे लाभ उठा सकते हैं।मनरेगा के मिलन कुमार ने कहा दिव्यांगों को 15 दिनों के अंदर जॉब कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा।

 

 

मौके पर प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ.एस.एस लाल,कल्याण पदाधिकारी विनीत जी,आईटी सहायक अनिल कुमार,जीविका बीपीएम राजीव रंजन,प्रीति कुमारी,विकास मित्र राम कुमार राम,विनोद कुमार सहित विभिन्न विभागों के कर्मी एवं सैकड़ों की संख्या में दिव्यांगगण मौजूद थे।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close