अंधविश्वास में ठगे लाखों रिटायर्ड हेल्थ इंस्पेक्टर के परिवार से लाखों की ठगी,

पीएचसी में आशाकर्मी पत्नी को पति, बेटे व दामाद के बारे में भरमा कर की गहनों व रुपये की ठगी

रिपोर्ट – गौरी शंकर प्रसाद

नालंदा (हरनौत) – लोगों को विभिन्न रोगों के इलाज के संबंध में झाड़ फूंक व जादू-टोने जैसे अंधविश्वास को दूर कर जागरुकता फैलाने और उनके सही इलाज के लिये स्वास्थ्य केंद्र की राह दिखाने वाले स्वास्थ्यकर्मी व उनका परिवार खुद इसके झांसे में आ गया। जब तक उन्हें इसकी सुध हुई, तब तक करीब 15 लाख के गहने व पचास हजार रुपये ठगे जा चुके थे। घटना हरनौत अस्पताल के रिटायर्ड हेल्थ इंस्पेक्टर ब्रजनंदन प्रसाद की आशाकर्मी पत्नी पुष्पा देवी के साथ घटी। वे थाना क्षेत्र के श्रीचंदपुर गांव के निवासी हैं। इस संबंध में थाने में एफआईआर की गई है।
घटना के संबंध में पीड़िता पुष्पा देवी बताती हैं कि चार वर्ष पहले क्षेत्र भ्रमण के दौरान वह रेलवे स्टेशन के निकट गिर गईं थीं। उसी वक्त कांति देवी नाम की महिला ने उन्हें उठाया। पुष्पा देवी ने बताया कि उसने कुछ मंत्र पढ़े। इससे दर्द जाता रहा। बस उसी वक्त से महिला ने उनके घर में पैठ बना ली। पुष्पा देवी का पति से अक्सर कलह होती थी। बेटा का तबियत खराब हुआ था। दामाद मुंबई में रहता था। बस इसी बात को लेकर कि पति दूसरी औरत के चक्कर में है, कोई बेटे की जान के पीछे पड़ा है और बेटी का घर कोई बिगाड़ देगा का डर कथित भक्तिनी महिला ने उनके मन में बिठा दी। सबों को रास्ते पर लाने के लिये कभी बाला, तो पायल एक-एक करके आठ-दस लाख के गहने ले गई। यही नहीं, बल्कि बातचीत में जानकारी ले ली कि बेटी के गहने उसके पास ही हैं। उसके चोरी होने की आशंका जताते हुए भक्तिनी ने घर के अनाज भरे एक ड्रम में रखवा दी। दो दिन बाद वही भक्तिनी ने उन्हें फोन कर बताया कि ड्रम से गहने चोरी हो गये हैं। जाकर देखा तो सही में गहने नहीं थे। उक्त महिला जब चाहे पुष्पा देवी के घर आती-जाती रहती थी। उनका कहना है कि वो गहने भी भक्तिनी ने ही चुरा लिये। कुल मिलाकर करीब 15 लाख के गहने व नगद 50 हजार की ठगी व चोरी का आरोप लगाया है।
बताया कि कथित भक्तिनी महिला कांति देवी बिट्टू पासवान की पत्नी है। पहले वे बस्ती रोड में और कुछ समय से नियामतपुर में किराये के मकान में रहते बताये जाते हैं।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close