मुंगेर फेसबुक से प्यार चढ़ा परवान तो थाम लिया एक दुजे का हाथ।

NEWS DESK

 

आज का दौर डिजीटल का दौर हो गया है।युवा से लेकर बुजुर्ग तक इस दौर में शामिल हैं।हर एक के हाथ में स्मार्ट फोन मानो दुनियां को मुट्ठी में करने को बेताब है।युवा वर्ग इसका जमकर लाभ ले रहे हैं तो कुछ दिमागी रूप से शातिर लोग इसका जमकर दुरुपयोग भी कर रहे हैं।
बात करें सोशल मीडिया की तो इसमें लोग मानों खो सा गया हैं।कुछ लोग इससे बेहतर फायदा उठा रहे हैं तो कुछ लोग इसका दुरूपयोग कर लोगों को उल्लू बना अपना उल्लू सीधा कर रहे हैं।फेसबुक और वाट्सऐप युवाओं की पसंद में अपनी पैठ बनाये हुए है।इसका उपयोग कर कई युवा जहाँ अपनी गृहस्थी बसा ले रहे हैं तो वहीं कुछ लोग लोगों की गृहस्थी में आग लगा देते हैं।ऐसा ही कुछ वाक्या तारापुर के माधोडीह के एक फेसबुक इस्तेमाल कर रहे युवा तो अंडाल वेस्ट बंगाल की युवती के साथ हुआ।
फेसबुक इस्तेमाल कर रहे माधोडीह गाँव निवासी अनिल वर्मा का पुत्र अमित वर्मा की दोस्ती दो वर्ष पूर्व अंडाल वेस्ट बंगाल की ज्योति से फेसबुक पर चेंटिग करने के दौरान हुई।चेंटिग करते करते दोनों फेसबुक पर काफी नजदीक आ गये।दोनों का चेटिंग दोनों के बिच प्यार का कमल खिला गया।दोनों एक दुसरे को मैसेंजर पर अपना मोबाइल नंबर देकर घंटो अपने दिल की बात एक दुसरे से प्यार के मधुर लफ्जों में साझा करते थे।बात करते करते दोनों एक दुसरे से शादी करने का इरादा जताया।और अपने अभिभावक को जानकारी देते हुए उनके राजामंदी पर ही शादी करने का प्रस्ताव रखा।और अंततः दोनों के अभिभावक राजी हो अमित और ज्योति को प्रणय सूत्र में हिंदू रीति रिवाज को निभाते हुए दोनों पक्षों के परिजनों के समक्ष अंडाल में शादी की रस्म पुरी कर बांध दिया।फेसबुक से प्यार का सफर तय करते हुए शादी की मंजिल पाने वाली ज्योति से जब इनके प्रेम सफर के बारे में पुछा गया तो उन्होंने बताया की अमित बहुत अच्छा लड़का है।हमदोनों की दोस्ती फेसबुक पर चेटिंग के दौरान हुई थी।अमित सदैव मर्यादित भाषा में हमसे बात करते थे।अमित ने अपने घर का पता देकर स्पष्ट लहजे में कहा की अपने अभिभावक को तुम मेरे और मेरे परिवार के बारे में जानकारी लेने बोलो यदि उन्हें पसंद आयेगा तो शादी के लिए मना लो।बस अमित की यही अदा हमें भा गई, अभिभावक को बताया तो उन्होंने अमित के बारे में पता किया अमित के बताये सारी बातों में सच्चाई थी।दोनों के अभिभावक बच्चों की खुशी को ध्यान में रखते हुए शादी के लिए मान गये और शादी करा दी।वैसे फेसबुक के प्यार में पड़ने वाली लड़कियों को काफी सजग रहने की जरूरत है।अगर ऐसा कुछ है भी तो अपने अभिभावक को जरूर बताना चाहिए।ताकि वो गलत लड़को के चक्कर में पड़ने से बच सके।वहीं अमित ज्योति को पत्नी के रूप में पाकर खुश है।अमित ने कहा मैंने सच्चे दिल से ज्योति को चाहा था।आगे के गृहस्थी में प्यार का कमल खिलता रहे यही हमदोनों एक दुसरे से उम्मीद बनाये हैं।शादी में शरीक  दोनों के परिजनों के अलावे पुष्पम, प्रियम अंजन,संजीब ने अमित और ज्योती को शादी की बधाई दिया।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close