मुजफ्फरपुर कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय के 1₹ किलो काजू किसमिश तो 16₹ प्रति पीस अंडे ,199₹किलो चना टेंडर घोटाले नेता प्रतिपक्ष ने उठाए सवाल मचा घमासान ।

आज तक 24 लाईव डेस्क

मुज़फ़्फ़रपुर जिला अंतर्गत कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय सह छात्रावास में खाद्यान्न आपूर्ति में हुए टेंडर घोटाले और एक रुपये काजू-किशमिश आपूर्ति प्रकरण में अब बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने कड़ा रुख कर लिया है जिसके बावत उनके आप्त सचिव प्रीतम कुमार ने शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव को पत्र भेजकर मामले में उच्च स्तरीय जांच कर कार्रवाई करने को लिखा है।

बताते चले कि जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, समग्र शिक्षा अभियान, बिहार शिक्षा परियोजना, मुजफ्फरपुर द्वारा वित्तीय वर्ष 2018-19 में
निविदा निकाली गई जिसमें प्रखण्ड में मेसर्स मुकुल मार्केटिंग का चयन हुआ और एकरानामा बनाया गया। परन्तु निविदा और आपूर्ति में निम्न घोर अनियमितता बरती गई है।

कस्तूरबा विद्यालयों 1 रुपये किलो आपूर्ति की जाने वाली खाद्यान्न सामग्री के विवरण निम्न प्रकार है:-
काजू, किशमिश, ईलाइची, ज्बावाईन, गरम मसाला, जीरा पाउडर, पांचफोरना, मिर्च पाउडर,धनिया पाउडर, हल्दी पाउडर, मांगरैला, तेजपता, सूखा मिर्च, मेथी, मैदा, सूजी, चना का सत्तु, चना का भुजा, लहसुन, आचार, सोयाबिन, ब्रश ब्रान्डेड, पारलेजी बिस्कुट एक रुपये पैकेट, सोडा खानेवाला, मेथी।
इसके अलावे महंगे मूल्य पर चना-199 किलो,चना दाल- 199 रुपए किलो और अंडा- 16 पीस की आपूर्ति होने की पुष्ट साक्ष्य के साथ छात्र राजद मुजफ्फरपुर के जिलाध्यक्ष अमरेन्द्र कुमार ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव को अवगत कराया था ।जिला अध्यक्ष अमरेन्द्र कुमार ने स्पष्ट बताया था कि ऐसी परिस्थिति में यह बिल्कुल स्पष्ट है कि निविदा चयन में अतिरिक्त व अवैध लाभ के उद्देश्य से भारी अनियमितता की है। सामग्रियों के अक्षम मूल्य होने के उपरांत भी चयन किया गया जिसके लिए निविदा घोटाला में संलिप्त डीपीओ समग्र शिक्षा, सर्व शिक्षा अभियान, मुजफ्फरपुर , संचिका प्रभारी, संभाग प्रभारी सहित, आपूर्तिदाता, उत्तरदायी कर्मचारियों के संलिप्तता की जांच कराकर कार्रवाई हेतु अनुरोध किया था।
छात्र राजद के जिला अध्यक्ष अमरेन्द्र कुमार ने मुजफ्फरपुर कस्तूरबा कस्तूरबा गांधी वालिका विद्यालय में हुए टेंडर घोटाले को नेता प्रतिपक्ष को कराया अबगत अब संज्ञान में लेते हुए प्रधान सचिव को करवाई के लिए लिखा पत्र।

मुज़फ़्फ़रपुर जिला अंतर्गत कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय सह छात्रावास में खाद्यान्न आपूर्ति में हुए टेंडर घोटाले और एक रुपये काजू-किशमिश आपूर्ति प्रकरण में अब बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने कड़ा रुख कर लिया है जिसके बावत उनके आप्त सचिव प्रीतम कुमार ने शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव को पत्र भेजकर मामले में उच्च स्तरीय जांच कर कार्रवाई करने को लिखा है।

बताते चले कि जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, समग्र शिक्षा अभियान, बिहार शिक्षा परियोजना, मुजफ्फरपुर द्वारा वित्तीय वर्ष 2018-19 में
निविदा निकाली गई जिसमें प्रखण्ड में मेसर्स मुकुल मार्केटिंग का चयन हुआ और एकरानामा बनाया गया। परन्तु निविदा और आपूर्ति में निम्न घोर अनियमितता बरती गई है।

कस्तूरबा विद्यालयों 1 रुपये किलो आपूर्ति की जाने वाली खाद्यान्न सामग्री के विवरण निम्न प्रकार है:-
काजू, किशमिश, ईलाइची, ज्बावाईन, गरम मसाला, जीरा पाउडर, पांचफोरना, मिर्च पाउडर,धनिया पाउडर, हल्दी पाउडर, मांगरैला, तेजपता, सूखा मिर्च, मेथी, मैदा, सूजी, चना का सत्तु, चना का भुजा, लहसुन, आचार, सोयाबिन, ब्रश ब्रान्डेड, पारलेजी बिस्कुट एक रुपये पैकेट, सोडा खानेवाला, मेथी।
इसके अलावे महंगे मूल्य पर चना-199 किलो,चना दाल- 199 रुपए किलो और अंडा- 16 पीस की आपूर्ति होने की पुष्ट साक्ष्य के साथ छात्र राजद मुजफ्फरपुर के जिलाध्यक्ष अमरेन्द्र कुमार ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव को अवगत कराया था ।जिला अध्यक्ष अमरेन्द्र कुमार ने स्पष्ट बताया था कि ऐसी परिस्थिति में यह बिल्कुल स्पष्ट है कि निविदा चयन में अतिरिक्त व अवैध लाभ के उद्देश्य से भारी अनियमितता की है। सामग्रियों के अक्षम मूल्य होने के उपरांत भी चयन किया गया जिसके लिए निविदा घोटाला में संलिप्त डीपीओ समग्र शिक्षा, सर्व शिक्षा अभियान, मुजफ्फरपुर , संचिका प्रभारी, संभाग प्रभारी सहित, आपूर्तिदाता, उत्तरदायी कर्मचारियों के संलिप्तता की जांच कराकर कार्रवाई हेतु अनुरोध किया था।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

आप अपने सहर के वर्तमान बिधायक के कार्यों से कितना संतुष्ट है ?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close