मुंगरे: थानेदार कर रहा मनमानी,ग्रामीण हुए परेशान,पलायन करने पर हुए मजबूर,मुख्यमंत्री से लगाई गुहार

थानेदार कर रहा मनमानी,ग्रामीण हुए परेशान,पलायन करने पर हुए मजबूर,मुख्यमंत्री से लगाई गुहार

 

 

 

 

मुंगेर: एक तरफ पूरा देश कोरोना महामारी से जूझ रहा है। कई स्वास्थ्य कर्मी और पुलिस कर्मी कोरोना योद्धा बनकर लोगों की निःस्वार्थ भावना से सेवा कर रहे हैं। वहीं दूसरी तरफ बिहार के मुंगेर जिले के हरिणमार थाना क्षेत्र से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। जहां हरिणमार एवं झोवाबहियार पंचायत की जनता हरिणमार थाना प्रभारी धर्मेंद्र कुमार से इतने प्रताड़ित हो चुके हैं कि ग्रामीण यहां से पलायन करने पर मजबूर हो चुकें हैं। वहीं ग्रामीणों का आरोप है कि हरिणमार थाना प्रभारी धर्मेंद्र कुमार बिना घुस लिए कोई भी कार्य नही करते हैं। छोटी मोटी भी शिकायत लेकर जाओ तो पैसे की मांग करते हैं और न देने पर गाली गलौज और मारपीट पर उतारू हो जाते हैं।

 

 

 

 

 

वहीं ग्रामीणों का कहना है कि दरोगा धर्मेंद्र कुमार के क्रिया-कलाप समाज एवं कानून के विपरीत हो गयी है। जबकि हमलोगों की दोनों पंचायत की जनता गरीब मेहनत-कस है। मेहनत मजदूरी पर ही हमलोग के परिवार की जीविका चलती है। ग्रामीणों का कहना है कि जब से थाना अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार का पदस्थापन थाने में हुआ है उसी वक्त से उनके अत्याचार एवं व्यवहार से हमलोग बहुत परेशान हैं। और अब उनसे उवकर अपनी मांन-मर्यादा को बचाने के लिए गांव छोड़कर पलायन करने पर मजबूर हो गये हैं।

 

 

 

वहीं पीड़ित गुड्डू कुमार का कहना है कि यह दरोगा जाती लगाकर अभद्र रूप से गाली गलौज करते हैं और किसी भी वक्त घर पर आकर निर्दोष व्यक्तियों को भी गाली गलौज करते हैं तथा महिलाओं के साथ भी अभद्र व्यवहार करते हैं जिससे यहां की महिलाएं भी खुद को असुरक्षित महसूस करती हैं। यह खुलेआम कहते हैं कि यदि तुम लोग मेरे विरुद्ध किसी भी पदाधिकारी को शिकायत करोगे तो किसी भी वक्त जेल जाने को तैयार रहना। जिसको लेकर यहां के ग्रामीणों में दहशत का माहौल उत्तपन्न हो रखा है।

 

 

 

 

 

 

 

वहीं धरती धर्म सिंह का कहना है कि यह दरोगा के पास यदि जनता कोई शिकायत लेकर जाती है तो बिना पैसे लिए शिकायत दर्ज नही करते हैं। पैसा नही देने पर गाली गलौज मारपीट कर भगा देते हैं। उनके द्वारा दिये गए धमकी से जनता भयभीत है। बिहार सरकार के द्वारा लगाए गए लॉकडाउन के वजह से हम लोग घर से बाहर निकल नहीं पाते हैं जिसका यह फायदा उठाते हैं। जिला मुख्यालय से हम लोगों का घर दूर होने के कारण और हम लोगों का दुर्गम इलाका होने का लाभ थाना अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार उठाते हैं।

 

 

 

इसको लेकर गांव की महिलाएं और पुरुषों ने मिलकर बिहार के मुख्यमंत्री, बिहार के उपमुख्यमंत्री, बिहार गृह सचिव, बिहार पुलिस महानिदेशक, बिहार पंचायती राज मंत्री, आईजी (भागलपुर), आयुक्त (मुंगेर), डीआईजी (मुंगेर), जिलाधिकारी (मुंगेर), पुलिस अधीक्षक (मुंगेर), मानवाधिकार (पटना) एवं अन्य सभी अधिकारी और मंत्रियों के नाम पत्र लिखा है जिसमें सेंकड़ों ग्रामीणों ने अपने हस्ताक्षर दिये हैं और पत्र के द्वारा न्याय की गुहार लगाई गई है। पीड़ित ग्रामीणों का कहना है कि यदि थाना अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार को जल्द से जल्द तबादला नही किया गया तो हम लोग गाँव से पलायन करने पर मजबूर हो जाएंगे।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

बिहार का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा ‌‍?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close