परिवार नियोजन को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों ने निकाली जागरूकता रैली

परिवार नियोजन को लेकर स्वास्थ्य कर्मियों ने निकाली जागरूकता रैली

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

अमित कुमार सविता।

 

 

 

 

सिकन्दरा(निस)प्रखंड में परिवार नियोजन कार्यक्रम के मद्देनजर गुरुवार को प्रखंड अन्तर्गत पतम्बर गांव में स्वास्थ्य उप केंद्र की एएनएम स्वाति कुमारी की अध्यक्षता में एक जागरूकता रैली निकाली गई।रैली स्वास्थ्य उपकेंद्र से निकलकर पूरे गांव का भ्रमण करते हुए पुनः स्वास्थ्य उपकेंद्र में आकर समाप्त हुआ।इससे
पूर्व बुद्धिजीवी ग्रामीण महिलाओं के साथ जागरूकता बैठक की गई।इस दौरान केयर इंडिया के प्रखंड प्रबंधक शाही रणधीर कुमार ने महिलाओं को जानकारी देते हुए बताया कि
परिवार नियोजन जागरूकता अभियान एक थीम को लेकर चलाया जा रहा है। विगत कुछ वर्षों से सरकार के प्रयासों से परिवार नियोजन को लेकर लोगों में जागरूकता आई है। यह बढ़िया संकेत है।इस अभियान के दौरान उपस्थित 1 बच्चे वाली माताओं को बताया कि दूसरे बच्चे के बीच का अंतराल 3 वर्ष अपनाना अति आवश्यक है। जबकि पहला बच्चा महिला के 20 वर्ष के बाद होना चाहिए।परिवार नियोजन के दो तरीके हैं जिसमें पहला तरीका अस्थाई में इजी पिल्स ओसीपीएल,अंतरा छाया,कॉपर टी एवं स्थायी साधन महिला का बंध्याकरण और पुरुष नसबंदी कराना है।यह सभी साधन स्वास्थ्य संस्थान में उपलब्ध है।बताया कि अस्थायी साधनों में महिला बंध्याकरण और पुरुष नसबंदी के लिए शिविरों का आयोजन समय-समय पर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर किया जाता है।साथ ही परिवार नियोजन के फायदे के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इसे अपनाने से आर्थिक बचत,शिक्षा के लिए अवसर,बेहतर पोषण और अनचाहे गर्भ से बचाव होता है।बच्चे के जन्म के अंतर रखने को उपलब्ध परिवार नियोजन के साधनों के लिए परामर्श दी जाती है।स्वस्थ परिवार को परिकल्पना पर बात करते हुए बताया कि प्रथम बच्चे के माता-पिता को लक्षित करते हुए बच्चे के जन्म का अंतर के लिए उपलब्ध साधनों के लिए परामर्श आशा कार्यकर्ता के साथ क्लस्टर मीटिंग और नवजात शिशु की सप्ताह तक विशेष देखभाल को सुनिश्चित किया गया है।इस दौरान समय-समय पर आशा द्वारा गृह भ्रमण कर लक्षित लाभार्थियों को परिवार नियोजन के साधनों के प्रति जागरूक करने का कार्य किया जा रहा है।महिलाओं को बताया कि प्रखंड अंतर्गत चल रहे आरोग्य दिवस सत्र स्थल पर भी परिवार नियोजन की सभी साधन उपलब्ध रहता है जिस भी लाभार्थी को अस्थायी साधन के लिए आवश्यकता हो वे स्वास्थ्य केंद्र में आकर जानकारी ले सकते हैं।बैठक में कम्युनिटी हेल्थ कोऑर्डिनेटर जय कृष्ण कुमार,आशा फैसिलिटेटर गीता कुमारी समेत आशा,आंगनवाड़ी सेविका समेत बड़ी संख्या में महिलाएं एवं ग्रामीण उपस्थित थे।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

बिहार का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा ‌‍?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close