डॉ रंजीत कुमार वर्मा विद्या भारती के क्षेत्रीय अध्यक्ष बने,मुंगेर के मुकेश नंदन क्षेत्रीय सचिव

डॉ रंजीत कुमार वर्मा विद्या भारती के क्षेत्रीय अध्यक्ष बने,मुंगेर के मुकेश नंदन क्षेत्रीय सचिव

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

मुंगेर से संतोष कुमार की रिपोर्ट।

 

 

 

विद्या भारती अखिल भारतीय शिक्षा संस्थान जो विश्व की सबसे बड़ी गैर सरकारी शिक्षा संस्थान है, ने मुंगेर विश्वविद्यालय, मुंगेर के कुलपति एवं राजभवन सलाहकार समिति के सदस्य डा0 रंजीत कुमार वर्मा को क्षेत्रीय अध्यक्ष तथा मुंगेर के सादीपुर निवासी तथा विद्या विकास समिति, झारखंड के प्रदेश सचिव मुकेश नंदन को उत्तर-पूर्व क्षेत्र (बिहार-झारखण्ड) का क्षेत्रीय सचिव, भारती शिक्षा समिति/शिशु शिक्षा प्रबंध समिति, बिहार के प्रदेश सचिव गोपेश कुमार घोष को क्षेत्रीय सहसचिव, तथा झारखंड के प्रदेश मंत्री रामअवतार नारसरिया को क्षेत्रीय मंत्री नियुक्त किया है। उक्त आशय की जानकारी विद्या भारती दक्षिण बिहार के प्रांत प्रचार प्रमुख राकेश नारायण अम्बष्ठ ने दी।

 

 

 

 

प्रांतीय सोशल मीडिया प्रमुख संतोष कुमार से दूरभाष पर जानकरी देते हुए मुकेश नंदन ने बताया कि क्षेत्रीय सचिव के रूप में उनकी प्राथमिकता विद्या भारती की रीति-नीति के अनुसार शिक्षा को आगे बढ़ाना है। वर्तमान में भारत सरकार के कैबिनेट ने जो नई शिक्षा नीति पारित किया है उसको 11 सितम्बर से लेकर 2 अक्टूबर तक जन-जन तक पहुॅंचाने का कार्य विद्या भारती ने लिया है। इस अभियान के तहत झारखण्ड और बिहार मिलाकर 2 लाख लोगों तक पहुॅचने का लक्ष्य है। माय नेप (नई शिक्षा नीति) के विभिन्न प्रतियोगिताओं में अधिक से अधिक संख्यां में कक्षा नवम से द्वादश तक के हमारे भैया-बहन सम्मिलित हों तथा जितनी भी प्रतियोगिताएं हैं उनमें बढ़-चढ़कर भाग लें और पुरस्कार जीतें, इस प्रकार का लक्ष्य लेकर चले हैं।

 

 

 

 

ज्ञात हो कि मुकेश नंदन ने मुंगेर से अपनी विद्यालयी एवं महाविद्यालयी शिक्षा ग्रहण करने के पश्चात सरस्वती शिशु मंदिर, सादीपुर से वर्ष 1987 में आचार्य के रूप में अपनी सेवा प्रारंभ किया। बाद में वर्ष 1990 में इसी विद्यालय के वाटिका के प्रधानाचार्य बने। वर्ष 1993 में सरस्वती शिशु मंदिर, सादीपुर के प्रधानाचार्य, वर्ष 1993 से 1995 तक सरस्वती विद्या मंदिर, मुंगेर (पुरानीगंज) के संस्थापक प्रधानाचार्य रहे। इसके बाद स्थानांतरित होकर आनंदराम ढ़ंाढ़ानियाॅ सरस्वती विद्या मंदिर, भागलपुर एवं सरस्वती विद्या मंदिर, कंकड़बाग, पटना के प्रधानाचार्य के रूप में अपनी सेवा दी। कालांतर में संस्थान के कई दायित्वों जैसे- आचार्य प्रशिक्षण महाविद्यालय के उप प्राचार्य, प्राचार्य, संभाग निरीक्षक, प्रांतीय एवं क्षेत्रीय योग प्रमुख, अखिल भारतीय योग सहसंयोजक तथा झारखण्ड प्रांत में प्रदेश सचिव के दायित्वों का भी सफलतापूर्वक निर्वहन किया है।

 

 

क्षेत्रीय सहसचिव सह भारती शिक्षा समिति/शिशु शिक्षा प्रबंध समिति, बिहार के प्रदेश सचिव गोपेश कुमार घोष ने कहा कि विद्यालय खुलने पर बच्चे सुरक्षित ढ़ंग से किस प्रकार विद्यालय आयें इसके लिए अभियान चलाएंगें। बच्चे कोरोना से बचाव संबंधित सारे नियमों का पालन करेंगे एवं अभिभावकों के मूलभूत असुविधाओं का भी ध्यान रखा जाएगा।

Live Cricket Live Share Market

जवाब जरूर दे 

बिहार का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा ‌‍?

View Results

Loading ... Loading ...

Related Articles

Back to top button
Close
Close